बकरी पालन बिज़नेस कैसे शुरू करे | How to start goat farming Business Plan in hindi

बकरी पालन

बकरी पालन कम पूंजी में शुरू होने वाला और ज्यादा मुनाफा देने वाला बिजनेस है। भारत में हम बकरी फार्म को छोटे स्तर से शुरू करके बड़े स्तर तक ले जा सकते है। लोग अक्सर ही इन्टरनेट पर सर्च करते रहते है की how to start goat farming business, goat farming business और goat farm kaise shuru kare तो इन्ही सब सवालों के उत्तर आपको इस जानकारी में मिलने वाला है।

  बकरी फार्म को मीट उत्पादन, दूध उत्पादन या फिर ब्रीड बेचने के लिए ज्यादातर प्रयोग में लाया जाता है।

बकरियों को दूसरे पशुओं के साथ आसानी से पाला जा सकता है इसलिए आप अपने मुनाफे और फार्म दोनों को बढ़ाने के लिए अलग अलग पशुओं को साथ पाल सकते है।

> गाँव के लिए बिज़नेस आईडिया

बकरी पालन बिज़नेस के फायदे –

  1. बकरी फार्म को काफ़ी कम पूंजी में शुरु किया जा सकता है, अगर हम बात करे डेयरी या पिग फार्म की तो उसमे ज्यादा पैसे लगाने पड़ते है।
  2. बकरियां ओर livestock कि तुलना में कम चार खाती है। इससे आपको ज्यादा पैसे की टेंशन नहीं होगी, जंहा डेयरी या पिग फार्म में हर दिन कई बोरिया खाली हो जाती है वहीं बकरी फार्म में ऐसा नहीं है।
  3. बकरियां एक साथ एक, दो या तीन बच्चो को जन्म देती है।
  4. बकरियों के स्वास्थ्य पर ज्यादा खर्च नहीं होता है ओर livestock कि तुलना में बकरियां ज्यादातर बीमार नहीं होती है तो ये भी आपके लिए एक अच्छी बात हो जाती है।
  5. बकरी के मीट कि काफ़ी मांग रहती है क्युकी ये हैल्थी और न्यूट्रीशन युक्त होती है।
  6. बकरी ईद जैसे मौके पर आपको बहुत ही अच्छे दाम मिलते है, क्युकी उस समय पर इनकी डिमांड बहुत रहती है, तो उस समय पर आप इससे भी ज्यादा मुनाफा कमा सकते है।
  7. बकरी का दूध बहुत ही लाभदायक होता है तो इसको भी आप बेच सकते है।
  8. इसके बालों की भी मार्केट में अच्छी डिमांड रहती है।
  9. इसके लिए बहुत ही अच्छा और highend शेड बनाने की जरूरत नहीं होती है बकरियों को लोग झोपड़ियों में भी रखते है। तो इसको आप बहुत ही कम इंफ्रास्ट्रक्चर से भी शुरू कर सकते हो।
  10. अगर आप थोड़ा बहुत बिजनेस के बारे में जानते है या फिर सीख सकते है और फिर उसी हिसाब से goat farm को भी काफ़ी बड़े स्तर तक लेकर का सकते है और अपनी ही एक ब्रांड बना सकते है।
  11. इसे थोड़ी जगह से भी शुरू किया जा सकता है।
  12. ओर लाइवस्टॉक की तुलना में बकरी फार्मिंग बिजनेस में कम खतरा होता है।
  13. ज्यादा लेबर की जरूरत नहीं पड़ती है।
  14. कॉमर्शियल गोट फार्मिंग आपको अच्छी कमाई करके देता है।
  15. बकरी का ढूंढ कलस्ट्रोल मुक्त होता है ये स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होता है।

> सुअर पालन का बिज़नेस कैसे शुरू करे

बकरी पालन बिज़नेस कैसे शुरू करे(goat farming Business Plan in hindi)

1. सही जगह का चुनाव –

                                    बकरी पालन में जगह का सही चुनाव महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्युकी गलत जगह पर फार्म बनाने से उसको चलाने कि ज्यादा लागत आएगी और फैल भी ही सकता है। 

ये सारी चीज़े एक बकरी फार्म में होनी चाहिए –

  1. साफ पानी की सप्लाई होनी चाहिए
  2. सारी जरूरी औजार होने चाहिए
  3. खाने की उचित व्यवस्था
  4. आस पास घास उगाने के लिए जमीन होनी चाहिए
  5. लेबर होनी चाहिए
  6. ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए
  7. दवाइयों की उचित सुविधा
  8. नजदीक में मार्केट होनी चाहिए

 बकरियों को अलग अलग रहना पसंद नहीं होता है तो उनके रहने के लिए आप जो भी शेड बनाए उसमे एक झुंड में बकरियां रहनी चाहिए।

शेड के आसपास बकरियों के खाने और घूमने के लिए अगर थोड़ी बहुत जगह हो तो काफी अच्छा होता है दिन में बकरियों को घुमाने से आपको अलग ही बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।

फार्म के आसपास मीठे पानी की उचित सुविधा होनी चाहिए।

फार्म के आसपास अगर मार्केट रहेगी तो आपको सामान लाने और बकरियों को बेचने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

2. जमीन –

   जमीन की जरूरत दो चीजों के लिए होती है, शेड बनाने के लिए और घास उगाने के लिए।

 अगर आप फार्म को फीड और स्टोर किए गए चारे पर चलाना चाहते है तो आपको शेड के अलावा और किसी प्रकार की जमीन कि आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

पर अगर आप फार्म में बकरियों को बाहर का घास भी खिलाना चाहते है तो आपको कुछ एकड़ जमीन की आवश्यकता पड़ेगी।

दस से पंद्रह बकरियों को 1 एकड़ जमीन में आराम से चारा खिलाया जा सकता है।

3. शेड –

                 बकरी पालन एक कच्चे शेड में भी किया का सकता है। अगर आपकी पास शेड पर लगाने के लिए अच्छी खासी पूंजी है तो आप एक अच्छा शेड भी बना सकते है। बजाय पक्के फर्स वाले शेड के, बकरी कच्चे फर्स वाले शेड में ज्यादा अच्छे से रहती है।

शेड को हमेशा साफ सुथरा रखना चाहिए ताकि बीमारी ना आए।

गर्मियों के लिए शेड को खुला और हवादार बनाना चाहिए और सर्दियों में उन हवादार रोशनदानों और खिड़कियों को बंद कर देना चाहिए ताकि बकरियों को सर्दी से बचाया जा सके।

4. बकरियों की ब्रीड –

                                    बकरियों की काफी अलग अलग तरीके की ब्रीड पाई जाती है ऐसी भी बकरियां होती है जो दूध ज्यादा देती है और ऐसी भी बकरियां होती है जो जल्दी बड़ी हो जाती है, आपका क्या मकसद है आपको उसी के हिसाब से ब्रीड का चुनाव करना चाहिए।

भारत में बकरियों कि काफी भिन – भिन ब्रीड पाई जाती है जैसे की जमनापारी, बीटल, बारबरी, काली बंगाली बकरी, बोर बकरी, सिरोही आदि ऐसे मिलाकर कुल 26 ब्रीड भारत में पाई जाती है।

आपको आपके एरिया के हिसाब से दूसरे फार्मों पर जाकर देखना चाहिए कि आपके एरिया में कौनसी ब्रीड सबसे अच्छी है।

 आपको अपने आस पास के किसी एक्सपर्ट कि सलाह लेनी चाहिए जिससे कि आपको एक बेहतर सलाह मिल सके।

5. दवाइयां –

                      बकरियों कि अगर आप अच्छे से देखभाल करेंगे और फार्म कि साफ सफाई रखेंगे तो काफी हद तक बीमारियों से आप निवारण पा सकते है।

बकरियों में कुछ ऐसी बीमारियां होती है जो बार आती रहती है जैसे कि दस्ट लगना और बुखार आदि, तो जो बीमारियां बार बार आती है आपको उन सभी की दवाईयां अपने फार्म पर हमेशा रखनी चाहिए।

दवाईयां आपको नुकसान से बचाती है, इसलिए आपके पास दवाईयां हमेशा उपलब्ध होनी जरूरी है।

बकरी की बीमारियों का इलाज कुछ तो आप अगर ट्रेनिंग लेते है तो उसमें सीख जाएंगे और कुछ आपको समय के साथ अनुभव हो जाएगा।

ज्यादा गंभीर स्थिति में आप फार्म पर डॉक्टर को भी बुला सकते है।

6. फीड –

                   बकरियों कि सही बढ़ोतरी और उचित मुनाफा कमाने के लिए बकरियों को सही फीड खिलाना बहुत ही आवश्यक है।

बकरी हर प्रकार का खाना नहीं कहती है जैसे कि सूअर फार्म में आप सूअरों को कुछ भी खिला सकते है पर बकरी फार्म में ऐसा नहीं होता है।

जब बकरी को खाना देना होता है तब आपको अच्छा घास, फीड या न्यार खिलाना होता है।

बकरी की अच्छी बढ़ोतरी के लिए आपको फाइबर और विटामिन आदि का खास ध्यान रखना होता है।

7. वैक्सीन –

                       बकरी फार्म में समय समय पर वैक्सीन करनी होती है, जैसे कि PPR, मुंह और खुर की बीमारी कि वैक्सीन और बैक्टीरिया आदि की वैक्सीन कि जाती है जिससे कि नुकसान से बचा जा सके।

सबसे पहले पांच महीने के बच्चे को वैक्सीन करनी पड़ती है जिसका नाम है PPR 

PPR – 1 ML

मुंह और खुर की – 2 ML

एंथ्रेक्स – 1 ML

8. बकरी फार्म की अच्छे से मैनेजमेंट करे –

          फार्म में आपको अच्छे से मैनेजमेंट रखनी होगी, आपको गंदा पानी और खराब खाना जानवरों को नहीं खिलाना चाहिए।

शेड को हमेशा साफ रखने की कोशिश करे और आस पास से कुत्तों को दूर रखने का उचित प्रबंध करे।

आपको बच्चे देने वाली बकरियों और बच्चो का उचित ध्यान रखना चाहिए।

समय समय पर वक्सिन देते रहे, और AI का प्रयोग करके भी आप बच्चे पैदा करवा सकते है।

बाहर से किसी को फार्म के अंदर ना घुसने दे। फार्म के बाहर चुना करे ताकि वायरस से बचा जा सके।

 9. मार्केटिंग –

                    बकरी फार्मिंग के बिजनेस में सबसे महत्वपूर्ण मार्केटिंग होती है क्युकी जिस्टनी अच्छी आप मार्केटिंग करोगे उतना ही आप मुनाफा कमा सकते है।

बकरी का दूध स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है इसकी आपके आस पास की लोकल मार्केट में अच्छी मांग रहती है।

अगर आप बड़े स्तर पर बकरी फार्मिंग करना चाहते है तो आपको ऑनलाइन मार्केटिंग करना चाहिए।

10. खर्चा और बचत –

  

                           गोट फार्मिंग में खर्चा और मुनाफा कई बातों पर निर्भर करता है जैसे की 

  1. आपको कितनी जानकारी है
  2. फार्म कहा पर बनाया गया है
  3. बकरी की ब्रीड कौनसी है
  4. फीड कितनी महंगी है

ओर भी कई सारी चीज़े है जो आपके फार्म का मुनाफा और खर्चा निर्धारित करती है।

बकरी फार्म बर्बाद होने के कारण –

         बहुत से बकरी फार्म अपने शुरुआत के कुछ ही सालों में बंद हो जाते है, इनके बंद होने के काफ़ी कारण हो सकते है जैसे कि –

  1. आपके पास बकरी फार्म या बकरियों के बारे में पूरी जानकारी का ना होना जिसके कारण आपका फार्म अच्छे से नहीं चल पाएगा तो आपको बंद करना पड़ेगा या फिर घाटा भी हो सकता है
  2. अगर आपने बकरियों के अच्छी ब्रीड नहीं चुनी तो भी आपको घाटा लग सकता है या फिर ओर दीकत हो सकती है।
  3.  अगर आप समय पर वैक्सीन या दवाई भी देते है तो बीमारी भी आ सकती है जिससे आपका पूरा फार्म भी तबाह ही सकता है।
  4. अगर आप बकरियों को अच्छे दामों में नहीं बेच पाए तब भी आपका फार्म बंद हो सकता है, ये बुरी मार्केटिंग और खराब बिजनेस रणनीति के कारण होता है।

> पोल्ट्री फार्मिंग बिज़नेस कैसे शुरू करे

आखिरी शब्द –

               बकरी पालन में जो मेहनत करके पूरी जानकारी और समझदारी से काम करते है उनके लिए ये बहुत ही मुनाफे का बिजनेस है।

जो बंदा दूसरो को देखकर बिना जानकारी के इस बिजनेस को शुरू करता है उसको घटा होना पक्का है, और कुछ ही महीनों में उसका बकरी फार्म बंद भी ही जाता है।

अगर आपको लाइव स्टॉक का बिजनेस करना है तो इस बिजनेस में आइए आपको फायदा मिलेगा।

 अगर आपको बकरी पालन की ये जानकारी पसंद आयी है तो आप कमेंट करके बताए, अगर कोई सवाल है तो कमेंट में पूछे। इस जानकारी को दूसरो के साथ फेसबुक और whatsapp ग्रुप में शेयर जरुर करे। धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *